1,703 views

पांवटा के डिवाइडर में उलझी है लोगों की जान

पढ़ेः ऐसे घटी आज भी एक गंभीर दुर्घटना

पांवटा साहिब (विक्रमादित्य)। नियमों को ताकपर रखकर कांग्रेस सरकार के समय पावंटा साहिब नेशनल हाईवे पर आनन-फानन में बनाए गए डिवाइडर मौत एवं गंभीर दुर्घटनाओं का प्रमुख कारण बनता जा रहा है।


नेशनल हाइवे-07 पर वाईप्वाइंट (महाराजा अग्रसेन चौक) एवं शमशेरपुर में कांग्रेस सरकार के समय नियमों को ताकपर रखते हुए एक निजी कम्पनी के माध्यम से बनाए गए डिवाडर लगातार जानलेवा साबित होने के साथ गंभीर दुर्घटनाओं का प्रमुख कारण बनता जा रहा है। यहाँ जानलेवा डिवाइडर पूर्व में दो लोगों की जहाँ जान पर भारी पड़ रहा है वहीं आयेदिन कोई न कोई वाहन दुर्घटना ग्रस्त हो रहा है। इसी कड़ी में आज अभी-अभी तंग यातायात के कारण एक टैक्टर अनियंत्र हो गया और बुरी तरह से डिवाइडरों के खंभों को तोड़ता हुए स्वयं भी बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया जिसे बाद में क्रेन की सहायता से सड़क से हटाया गया। इस दौरान ट्रैक्टर चालक को भी गंभीर चोटें आई हैं।

स्थानीय लोगों की मांग है कि सड़क के बीचों-बीच मौत का लोहा नियमों को ताक पर रखकर गाड़ा गया उसे तुरन्त हटाकर 3 फिट पैराफीट बनाकर फिर डिवाइडर लगाए जाए। विशेषज्ञों का कहना है कि यदि सड़क नियमों का पालन करते हुए सीमेन्टेड पैराफिट के ऊपर गोल सेफ में इंगल लगाए जाए तों वाहन के साथ-साथ लोगों की जान भी बचाई जा सकती है। ऐसे पैराफिट बनने के पश्चात भी यदि कोई वाहन अनियंत्रित होता है तो वह पहले सीमेन्ट से बने पैराफिट से लगेगा और वाहन को कम क्षति होने के साथ-साथ लोगों की जान को भी बचाया जा सकेगा। अब देखना है कि प्रदेश की नई भाजपा सरकार और पांवटा में तीसरी बार चुने गए विधायक चौधरी सुखराम इस गंभीर मसले पर लोगों की सुरक्षा के तहत कोई निर्णय लेते या फिर अवैज्ञानिक तरीके से बने इन डिवाइडरों के माध्यम से दुर्घटनाए होती रहेगी और जानें जाती रहेंगी?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!