डीएवी प्रबंधन समिति नई दिल्ली द्वारा प्रधानमंत्री केयर्स फंड में 5 करोड़ प्रदान

करोना संकट के समय डीएवी ने पूरे देश में शुरू की आॅनलाइन टीचिंग

नई दिल्ली। समस्त विश्व में महामारी के रूप में अपने पांव पसारते हुए कोविड-19 के दुष्प्रभावों से उभरने हेतु डीएवी प्रबंधन समिति नई दिल्ली द्वारा प्रधानमंत्री केयर्स फंड में दिनांक 4 अप्रैल 2020 को 5 करोड़ की सहायता राशि प्रदान की गई है। यह जानकारी डीएवी काॅलेज मैनेजिंग कमेटी नई दिल्ली एवं आर्य प्रादेशिक प्रतिनिधि सभा के अध्यक्ष पदमश्री डाॅ0 पूनम सूरी जी ने प्रदान की।


डाॅ0 पूनम सूरी ने डीएवी परिवार के समस्त सदस्यों एवं कर्मचारियों को कोविड-19 जैसी विनाशकारी महामारी से जूझते हुए देश की सहायता हेतु सहायता राशि प्रदान करने की अपील की थी जिसके अंतर्गत समस्त कर्मचारियों ने कम से कम 1 दिन का वेतन एवं अधिक का सहयोग देते हुए 5 करोड़ की सहायता राशि प्रधानमंत्री केयर फंड में प्रदान की।

डीएवी संस्था पहले भी देश में आई आपदाओं में सहयोग देता रहा है

विस्तृत जानकारी देते हुए डीएवी सिरमौर पब्लिक स्कूल पांवटा साहिब के प्राचार्य डाॅ0 वी. के. लवानिया ने बताया सन् 1886 से आरंभ हुई डीएवी संस्था ने देश में आई प्रत्येक आपदा के समय कंधे से कंधा मिलाकर अपना सहयोग दिया है फिर चाहे वह गुजरात एवं पौड़ी में आया भूकंप, जम्मू कश्मीर एवं बिहार में आई बाढ़, सुनामी आपदा या उड़ीसा त्रासदी हो, प्रत्येक आपदा के समय डीएवी संस्था ने अपनी भागीदारी सुनिश्चित कर सहायता राशि प्रदान की है।


डाॅ0 वी. के. लवानिया ने बताया आज देश कोरोना वायरस के कहर से जूझ रहा है अतः डीएवी परिवार के प्रत्येक सदस्य का यह परम कर्तव्य है कि संकट की घड़ी में अपना सहयोग प्रदान करे। इस संदर्भ में डीएवी संस्था की संपूर्ण देश में 919 शाखाओं के अंतर्गत जिनमें डी ए वी विश्वविद्यालय, प्रोफेशनल काॅलेज, वोकेशनल काॅलेज, डिग्री काॅलेज, समस्त स्कूल एवं आर्य समाज की शाखाओं के कर्मचारियों द्वारा कम से कम 1 दिन का वेतन एवं अधिक का सहयोग किया गया है।
करोना संकट के समय डीएवी ने पूरे देश में शुरू की आॅनलाइन टीचिंग
डाॅ0 लवानिया ने कहा कि संकट की इस घड़ी में डीएवी के विद्यार्थी पढ़ाई से वंचित ना हो इसके चलते वैज्ञानिक एवं आधुनिक दृष्टिकोण से परिपूर्ण डाॅ0 पूनम सूरी ने देश के संपूर्ण डीएवी संस्थानों में शिक्षकों को आॅनलाइन टीचिंग के निर्देश दे दिए हैं जिसे संपूर्ण देश में कार्यान्वित भी कर दिया गया है जिससे घर बैठे ही विद्यार्थी आगामी कक्षा के पाठ्यक्रम से लाभान्वित हो सकें।
डीएवी ने क्वाॅरेंटाइन एवं गरीबों के आश्रय हेतु खोले अपने भवनों के द्वार
डाॅ0 लवानिया ने बताया कि डीएवी संस्था ने कई राज्यों में अपने भवन भी इस समय क्वाॅरेंटाइन में चिन्हित लोगों एवं पलायन कर रहे गरीब लोगों के लिए प्रदान किए हैं। इसके साथ ही स्थानीय प्रशासन के सहयोग से खाना एवं आवश्यक सामग्री मुहैया कराने में भी डीएवी संस्था अपनी सजग भूमिका निभा रही है।


उन्होंने कहा कि डीएवी संस्था संपूर्ण देश से कोविड-19 जैसी जानलेवा महामारी को नष्ट करने हेतु प्रतिबद्ध है जिसके अंतर्गत डाॅ0 पूनम सूरी ने समस्त देशवासियों से सरकार द्वारा दिए गए निर्देशों का पूर्णतया पालन करने की अपील की है। डाॅ0 लवानिया ने स्वयं, समस्त कर्मचारियों एवं विद्यार्थियों को डीएवी का अंग होने पर गौरव का विषय बताते हुए कहा पदमश्री डाॅ0 पूनम सूरी जी का सफल नेतृत्व, सकारात्मक सोच एवं देश के लिए समर्पण की भावना अति प्रशंसनीय है तथा इस कार्य हेतु वे बधाई के पात्र हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!