पांवटा में क्वारंटाइन 167 लोगों की सेवा में जुटे राजस्व विभाग के योद्धा

जान की परवाह न करते हुए कर रहे हैं सरकार के निर्देशा का पालन

पांवटा साहिब। कोरोना प्रभावित लोगों से जहां लोग परहेज बरतने लगे हैं वहीं इस वैश्विक महामारी से अपनी जान की परवाह न करते हुए पांवटा शहर में 15-16 दिनों से मानवता की सेवा में राजस्व विभाग के एक दर्जन से भी अधिक कानूगो एवं पटवारी खामोशी के साथ युद्ध स्तर पर मिशाल कायम कर रहे हैं।


यहां पावंटा साहिब स्थित सेल्टर होम में बतौर नोडल अधिकारी तैनात कानूगो दिनेश कुमार की निगरानी में सरकार और प्रशासन के दिशा-निर्देशों के तहत करीब 44 लोगों की 15 दिनों से दिन रात देखरेख की जा रही है। इस सेल्टर होम में भोजन से लेकर चिकित्सीय निगरानी तक की जिम्मेवारी कानूगो दिनेश कुमार अपने सहयोगी पटवारी गीताराम, विष्णु भारद्वाज एवं दर्शन सिंह के साथ कोरोना संकट के समय मानवता की सेवा के लिए सरकार और प्रशासन के दिशा-निर्देशा के तहत लोगों की मदद कर रहे हैं। इस दौरान शारीरिक दूरी का पूरा ध्यान रखा जा रहा है। क्वारंटाइन केंद्रों में लोगों को भोजन परोसने से लेकर उनके स्वास्थ्य का पूरा ध्यान रखा जा रहा है।


इसी प्रकार सिरमौर जिला के पांवटा साहिब स्थित वाई प्वाइंट के क्वारंटाइन सेंटर में रह रहे 88 लोगों को जिम्मेदारी नोडल अधिकारी जयकिशन (कानूगो)  के नेतृत्व में कानूगो सलीम खान, पटवारी सुरजीत एवं सुखविन्दर पटवारी कोरोना जैसी भयानक महामारी की परवाह न करते हुए भोजन, मास्क व सैनिटाइजर सहित लोगों की सेवा में दिन-रात डटे हुए हैं।


इसी प्रकार पांवटा साहिब के तारूवाला में स्थित क्वारंटाइन सेंटर में 35 लोगों को जिम्मेदारी नोडल अधिकारी गुलाब शर्मा (कानूगो) के नेतृत्व में पटवारी संदीप एवं रामचन्द्र पटवारी लोगों की सेवा में 29 मार्च से लगातार दिन-रात डटे हुए हैं। ऐसे कोराना वीरो की शहर के लोगों ने भूरि-भूरि सराहना करते हुए राजस्व की समूची टीम का आभार व्यक्त किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!