अब रविन्द्र पाल व सुशील तोमर के बीच होगी आमने-सामने की कड़ी जंग

वार्ड नं. 6 में रविन्द्र पाल सिंह उर्फ बिट्टू भाई के चुनावी प्रचार व लोकप्रियता ने बदल दिये चुनावी समीकरण

पांवटा साहिब (विक्रमादित्य)। नगर पालिका चुनाव की तिथि जैसे-जैसे निकट आती जा रही वार्डों के समीकरण वैसे-वैसे बदलने लगे हैं। शहर की जो सीटें हाॅट थी वहां तूफान जहां थमा-थमा सा नजर आ रहा है वहीं एक तरफा रूझानों के संकेत देने वाले वार्डों में अब तूफानी गति से राजनीतिक हलचल तेज हो गई है जिसके फलस्वरूप अब रविन्द्र पाल व सुशील तोमर बीच आमने-सामने की कड़ी जंग के आसार बनते जा रहे हैं।


जी हां, सुधी पाठकों को बता दें कि खबरों के मुताबिक शहर की चर्चित सीट का यहां मतलब वार्ड नं. 8 से है तथा एक तरफा उठ रहे रुझान का मतलब वार्ड नं. 6 से है। यहां चुनाव निशान आबंटन के बाद इन दोनों सीटों में अब जमीन आसमान का अंतर साफ-साफ नजर आने लगा है। वार्ड नं. 8 में कुलवंत सिंह चैधरी के पग खींचने के बाद जहां यह सीट अपने हाॅट होने का दर्जा खो चुकी है वहीं प्रारंभिक एक तरफा रूझान देने वाले वार्ड नं. 6 के समीकरण बदलते नजर आ रहे हैं। क्योंकि इस वार्ड में शहर के दो दर्जन से अधिक मौजीज लोगों ने शिक्षित, जागरूक, अनुभवी, साफ एवं ईमानदार छवि के उम्मीदवार रविन्द्र पाल सिंह उर्फ बिट्टू भाई के पक्ष में समर्थन जताकर यहां मुकाबला कड़ा कर दिया है। यदि साफ-साफ लब्जों में कहें तो अब रविन्द्र पाल सिंह उर्फ बिट्टू एवं सुशील तोमर बीच आमने-सामने की कड़ी जंग तय मानी जा रही है।


वार्ड नं. 6 से स्थानीय वाशिन्दे रविन्द्र पाल सिंह उर्फ बिट्टू भाई (रविन्द्र मेडिकल) जहां शिक्षित, जागरूक, अनुभवी, साफ एवं ईमानदार छवि के उम्मीदवार हैं वहीं उनके पिता स्वर्गीय श्री भगवान सिंह खुराना ;पूर्व नगर पालिका अध्यक्षद्ध की कार्यकुशलता एवं जनसेवा आज भी शहर के वाशिन्दों के दिलों में जिन्दा हैं। इसके अलावा रविन्द्र पाल सिंह वर्तमान में व्यापार मण्डल पांवटा साहिब के सीनियर वाइस प्रेसीडेन्ट का दायित्व भी बखूबी संभाल रहे हैं। रविन्द्र पाल सिंह उर्फ बिट्टू भाई की धर्मपत्नी वार्ड नं. 7 वर्तमान पार्षद हैं जो अपने दायित्वों को पूरी ईमानदारी व निष्पक्षता से निभाती आयीं हैं। इस प्रकार रविन्द्र पाल सिंह का पूरा परिवार या यंू कहे कि दूसरी पीढ़ी समाजसेवी कार्यों में निरंतर जुटी हुई है तथा हर समय लोगों की समस्याओं के समाधान हेतु उपलब्ध भी हैं।

रविन्द्र पाल सिंह ने वार्ड वासियों से अपील की है कि आने वाली 10 जनवरी को जात-पात व भाई-भतीजावाद की राजनीति को त्यागकर वार्ड की भलाई हेतु उनके चुनाव चिन्ह ”कुर्सी“ के निशान के सामने वाला बटन दबाकर वार्ड के चंहुमुखी विकास हेतु मतदान करके अपनी जीत यानि वार्ड की जीत सुनिश्चित करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!